Saturday, November 1, 2014

कल और आज



लघु कथा
                                                    
                                                  

                  कल और आज
                                                                                              
                                                               पवित्रा अग्रवाल
      
         

               "अन्ना कल तक तो इस ड्राइंग रूम में आपके, मंत्री जी के साथ बड़े-बड़े फोटो, फ्रेम किये हुए लटके   थे.....आज सब कहाँ गये ?'
            - "तुम्हें नही मालुम ? मंत्री जी एक बहुत बड़े घुटाले में फँस गये हैं। उन्हें दूसरे राज्य की पुलिस   पकड़ कर ले गयी है।जिस मंत्री से निकटता दिखा कर लोग पुलिस पर रौब मारते थे वही मंत्री जी स्वंय  को पुलिस से नही बचा पाये...पुलिस वाले उन के  साथ मेरा फोटो देख कर मुझे भी उनका सहयोगी न  समझ लें इसी लिये सब फोटो हटा दिये हैं।'



email -- agarwalpavitra78@gmail.com



-पवित्रा अग्रवाल
 
मेरे ब्लोग्स