Friday, February 17, 2017

भगवान सब देखता है




लघु कथा
 
    भगवान सब देखता है

                                         पवित्रा अग्रवाल
                                

     मंदिर से लौट कर दादी ने कहा --"क्या कल युग आ गया है, चोर भगवान को भी नहीं  छोड़ते।'
 नन्हें राहुल ने पूछा - "क्या हुआ दादी ?'
 "रात को मंदिर में चोरी हो गई, भगवान के सारे गहने चले गए ।'
 " अरे दादी , चोरों को भी और कोई नहीं मिला,चोरी भी की तो भगवान के गहनों की...बेवकूफ कहीं के,अब तो वह जरूर पकड़े जाएगे ।'
 दादी ने चौंक कर पूछा --"वो कैसे ?'
 " आप ही तो कहती हैं कि गलत काम नहीं करना चाहिए,भगवान सब देखता है.अपने गहने चोरी होते समय भगवान ने चोरों को नहीं देखा होगा क्या ?'
 "हाँ भगवान सब देखता तो है पर बोल तो नहीं सकता ।'

 ईमेल --     agarwalpavitra78@gmail.com

मेरे ब्लोग्स ---